Take a fresh look at your lifestyle.

पाकिस्‍तान राजनयिक संबंधों के स्‍तर को कम करने के एकतरफा फैसले की समीक्षा करें – भारत

एकतरफा कार्रवाई करके पाकिस्‍तान दुनिया को यह दिखाना चाहता है कि स्थिति खतरनाक है..

सत्य संग्राम। भारत ने अनुच्‍छेद 370 से जुड़ी हाल के सभी फैसलों को पूरी तरह अपना आंतरिक मामला बताया। भारत ने कहा है कि द्विपक्षीय संबंधों के मामले में राजनयिक रिश्‍ते कम करने सहित एकतरफा कार्रवाई करके पाकिस्‍तान दुनिया को यह दिखाना चाहता है कि स्थिति खतरनाक है।

पाकिस्‍तान की कार्रवाई पर खेद व्‍यक्‍त करते हुए मंत्रालय ने अनुरोध किया कि पाकिस्‍तान अपने फैसले पर फिर विचार करे ताकि राजनयिक संबंध बरकरार रहें। विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्‍तान ने जिन बातों का हवाला दिया है उनमें कोई सच्‍चाई नहीं है।

मंत्रालय ने कहा कि इसमें कोई हैरानी की बात नहीं है कि जम्‍मू कश्‍मीर में विकास कार्यों की पहल को पाकिस्‍तान नकारात्‍मक ढंग से देखेगा क्‍योंकि वह सीमापार से आतंकवाद की अपनी कार्रवाई को उचित ठहराने के लिए राज्‍य के लोगों की भावनाओं का गलत इस्‍तेमाल करता रहा है।

मंत्रालय ने कहा कि अनुच्‍छेद 370 से जुड़ी हाल की सभी कार्रवाइयां भारत का आंतरिक मामला हैं। देश का संविधान सर्वोपरि है और रहेगा। खतरे की अफवाह के सहारे इस मामले में दखल देने से कुछ हासिल नहीं होगा।

विदेश मंत्रालय के बयान के अनुसार सरकार और संसद के फैसले जम्‍मू कश्‍मीर को विकास के अवसर उपलब्‍ध कराने की प्रतिबद्धता पर आधारित हैं‍।

संविधान में अस्‍थायी प्रावधान के कारण राज्‍य का विकास नहीं हो पा रहा था। अब इन उपायों से सामाजिक-आर्थिक भेदभाव भी दूर हो सकेगा। मंत्रालय ने कहा कि भारत के फैसले से जम्‍मू कश्‍मीर में आर्थिक गतिविधियां बढ़ेंगी और राज्‍य के सभी लोगों को आजीविका के बेहतर अवसर मिल सकेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.