Take a fresh look at your lifestyle.

कर्नाटक में कांग्रेस जनता दल सेक्‍युलर गठबंधन सरकार गिरी, भाजपा बनाएगी सरकार

मुख्‍यमंत्री कुमारस्‍वामी 105 के मुकाबले 99 मतों से विश्‍वास मत हारे।

सत्य संग्राम। कर्नाटक में लम्बे समय से चल रहा राजनीतिक गतिरोध खत्म हो गया है। कर्नाटक विधानसभा में फ्लोर टेस्ट में मुख्यमंत्री कुमारस्वामी फेल हो गए हैं। कर्नाटक में जनता दल सेक्युलर और कांग्रेस की गठबंधन सरकार विधानसभा में विश्वास मत हासिल करने में विफल रही।

बता दें कि राजनीतिक उथल-पुथल के बीच, मुख्यमंत्री एच. डी. कुमारस्वामी ने पिछले सप्‍ताह बृहस्‍पतिवार को पेश किए गए विश्वास के प्रस्ताव पर चार दिनों तक चली बहस के बाद उन्‍हें हार का सामना करना पडा। इस बीच, कुमारस्‍वामी ने पद से इस्‍तीफा दे दिया है।

आपको बता दें कि राज्य में लगभग तीन सप्ताह से चल रहा राजनीतिक संकट समाप्‍त हो गया है। मत विभाजन की प्रक्रिया के बाद विधानसभा अध्‍यक्ष के. आर. रमेश कुमार ने घोषणा की कि 99 विधायकों ने प्रस्ताव के पक्ष में और 105 ने विरोध में मतदान किया।

बता दें कि कर्नाटक में मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार गिर गई है। कर्नाटक विधानसभा में विश्वासमत प्रस्ताव एचडी कुमारस्वामी ने पेश किया था।

कर्नाटक में सरकार गिरने पर राहुल गांधी ने कहा- ये लालच की जीत और लोकतंत्र-ईमानदारी और जनता की हार है।

शिवराज सिंह ने कहा- कर्नाटक में सरकार गिरने के पीछे बीजेपी का कोई रोल नहीं है। कांग्रेस के नेता खुद सरकार गिरने के लिए जिम्मेदार हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.